अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







शिवराज ने कमलनाथ को कहा-खेत की मूली, जीतू पटवारी बोले-मान मर्यादा भूले शिवराज

07 Dec 2019

no img

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सागर में गिरफ्तारी देने गए थे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा था कि ‘सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे, इमरजेंसी के समय जेलों में रहे, तुम किस खेत की मूली हो।’ उनके इस बयान का कांग्रेस विरोध कर रही है। इसी को लेकर कमलनाथ कैबिनेट के मंत्री जीतू पटवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सत्ता से बेदखल होने की निराशा शिवराज के चेहरे पर दिखाई दे रही है, वे इस बात को भुना नहीं पा रहे कि वे अब मुख्यमंत्री नहीं हैं। वे जनता और अपनी पार्टी में अप्रासंगिक भी हो गये हैं, शायद इसीलिए अब उनको भाषा की मर्यादा का भान भी नहीं रहता। 

मंत्री पटवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के लिए ‘खेत की मूली’ जैसी अभद्र भाषा का प्रयोग करना बताता है कि उनकी सत्ता का स्तर क्या हो गया है। उन्होंने कहा कि जब शिवराज सत्ता में थे तो फसलों के दाम मांगने पर अन्नदाता किसानों के सीने में गोलियां उतार कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया और जब सत्ता चली गई तो किसानों से प्रतिशोध की आग में आप जल रहे हैं और लगातार उनकी आजीविका पर आक्रमण कर रहे हैं। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया कि प्रदेश की जनता के लिए अगर आप इतने ही सच्चे हैं तो अभी धरना प्रदर्शन करिए, अपनी केंद्र सरकार के खिलाफ और जिन 28 सांसदों को प्रदेश ने जिताया है वह भी अपनी सरकार से प्रदेश को होने वाले सौतेले व्यवहार पर चर्चा क्यों नहीं करते। 

उन्होंने कहा कि शिवराज को अन्नदाता किसानों से बदला लेने की अपेक्षा मुख्यमंत्री कमलनाथ से सीख लेना चाहिए, उन्होंने हमेशा विपक्षीय दल होने के बावजूद केंद्र में मंत्री रहते हुए मप्र की अधोसंरचना विकास, अन्नदाता किसानों एवं आमजन की तरक्की के लिए कार्य किया और इतिहास साक्षी है और शिवराज खुद उनकी प्रशंसा करते हुए नहीं थकते थे। यदि आंदोलन करना है तो जनता के हित में करो, किसानों के हित में करो, केंद्र की भाजपा सरकार के सम्मुख धरना और गिरफ्तारी दीजिए और केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश के किसानों के लिए न्याय की मांग कीजिए। इस धरना और गिरफ्तारी में आपका साथ देने के लिए हम तैयार हैं। लेकिन जनता और किसानों को गुमराह करना बहुत ही गलत है। 

मध्यप्रदेश किसान मुख्यमंत्री मंत्री विधायक राज्य


Latest Updates

No img

Shahjahanabad police registers FIR after video goes viral of youth being beaten brutally with slippers in the Capital


No img

Sarang adds a new word to dictionary, asks Sonia Gandhi to make Digvijay the President of ‘Gunda Congress’


No img

कल इंतज़ार करेंगे प्रदेश के 6 हजार 655 मतदान केंद्र आप के आने का !!!


No img

नाहर कारख़ाने की मुलाज़िम महिलाओ से भरी बस पलटी!!!


No img

We can't get enough glares out of IPS Krishnaveni Desavatu during the IPS Meet in Capital Bhopal


No img

Capital corona toll reaches 12 positives within 12 days, 3 fresh cases found


No img

MPHRC’s Chairman presents annual reports of 3 yrs to Shivraj Singh Chauhan


No img

Similar to Chandigarh University Case, girl filmed while changing clothes in Bhopal’s ITI college


No img

One Iranian suspicious couple found in Vidisha, know neither English nor Hindi


No img

PS बागसेवनिया: पढ़ाई के तनाव के चलते किशोरी ने की खुदकुशी


No img

सरेराह चाकुओ से गोद कर युवक की हत्या


No img

वतन-ए-हिन्दुस्तां तुझे गणतंत्र का दिन मुबारक़ संविधान की आमद मरहबा


No img

हिस्ट्रीशीटर तौफीक़ शूटर को PS ऐशबाग ने किया गिरफ़्तार!!!


No img

Online applications for Haj pilgrimage to start from the 2nd week of January for MP residents


No img

साधु संत मौलवी ईमाम की अपीलों से, त्योहारों में क़ायम रह सकती है शांति!!